सुबह की 10 बुरी आदतें जो आपके जीवन को बर्बाद कर रही हैं | 10 Morning Bad habits destroying your life

Word_Wizard

इंसान की अच्छी आदतें ही उसकी ज़िंदगी का फ़ैसला करती हैं। अच्छी आदतें हमें सफलता की ओर लेकर जाती हैं और बुरी आदतें ज़िंदगी बर्बाद कर देती हैं। इंसान की अगर सुबह की आदतें ठीक हो जाए तो उसकी ज़िंदगी सफल बन जाएगी। लेकिन कुछ ऐसी छोटी-छोटी गलतियां होती हैं जो अक्सर हम सुबह जाने अन जाने में कर देते हैं और उनका हमारी ज़िंदगी पर काफ़ी गहरा ग़लत प्रभाव डलता हैं।

दिन की शुरुआत ही बताती हैं कि बाक़ी का दिन कैसा जाएगा। सुबह के अच्छे जाने से दिन भी अच्छा जाता हैं। आपकी दैनिक ज़िंदगी का प्रभाव आपके भविष्य पर पड़ता हैं और वही आपके जीवन को तय करता हैं। आइए जानते हैं सुबह की 10 बुरी आदतें जो आपके जीवन को बर्बाद कर रही हैं

अलार्म को स्नूज करना (Snoozing the Alarm)

ज़्यादा तर लोग सुबह के अलार्म को बंद करके उठने की बजाए स्नूज़ कर के फिर से सो जाते हैं। जिससे वह सुबह के पहले काम को ही टाल देते हैं। दुबारा सोने से ज़्यादा गहरी नींद आती हैं। बाद में उठने से दिमाग़ थका हुआ महसूस करता हैं और पूरे दिन नींद आती हैं। इससे आप अपने दिन के काम अच्छे से नहीं कर पाते हो और थके होने की वजह से ज़्यादा कुछ सोच समझ भी नहीं पाते हो।

लक्ष्य के बिना जागना (Waking up without a goal)

बहुत सारे लोग रात को बिना आपने अगले दिन के बारे में सोचे ही सो जाते हैं और सुबह उठ कर ही अपने दिन को प्लान करते हैं ऐसा करने से उनकी सुबह ही बहुत सारी एनर्जी बरबाद हो जाती हैं जिससे वो बाक़ी के फ़ैसले अच्छे से नहीं ले पाते। एक सफल व्यक्ति की अच्छी आदत होती हैं की वो अपने अगले दिन को सोने से पहले की प्लान कर के सोये जिससे वो सुबह एक्शन ले सके।

फ़ोन को चलाना (Using Mobile Phone)

एक रिपोर्ट के अनुसार काफ़ी लोग सुबह उठ कर 15 से 20 मिनट अपने फ़ोन में सोशल मीडिया पर बिता देते हैं और अपनी ज़िंदगी की दूसरों से तुलना करते हैं। इससे वो सुबह सुबह ना केवल नकारात्मक ऊर्जा को अपनी तरफ़ खींचते हैं बल्कि पूरे दिन परेशान भी रहते हैं। एक अच्छी आदत रहेगी कि फ़ोन को उठने के कुछ घंटों बाद चलाना।

बिस्तर को ठीक नहीं करना (Not Making the Bed)

सुबह उठ कर काफ़ी लोग अपने बिस्तर को ऐसे ही छोड़ देते हैं और रात को आकर वैसे ही वापस सो जाते हैं। लेकिन अपने बिस्तर को सुबह उठ कर ठीक करना एवं सारे चीज़ों को ढंग से रखना एक अच्छी आदत हैं इससे हम अनुशासन में रहते हैं और यह आदत हमें सफलता की तरफ़ लेकर जाती हैं। बिस्तर को सुबह उठ कर ठीक करना सेना के नियमों में भी हैं।

पानी को नहीं पीना (Not Drinking water)

सुबह उठ कर पानी को पीना एक अच्छी आदत हैं इससे हमारा पेट भी साफ़ रहता एवं हम बीमारियों से बचे रहते हैं। साथ ही हम हाइड्रेट भी रहते हैं जिससे हम अपने फ़ैसले अच्छे से ले सकते हैं। वही पानी का न पीना से हमारा शरीर निर्जलीकरण का शिकार बन जाता हैं।

सूरज की रोशनी न लेना (Not taking sunlight)

सुबह सुबह सूरज की धूप लेने से हमारे दिमाग़ में केमिकल रिलीज़ होते हैं जिससे हमें अच्छा लगता हैं और शरीर के स्वस्थ लिए भी धूप काफ़ी ज़रूरी हैं। अगर हमें सुबह अच्छा फील होगा तो हमारा पूरा दिन अच्छा जाएगा। इसलिए हमें सुबह उठ कर धूप लेनी चाहिए।

सुबह चीनी लेना (Taking sugar in morning)

बहुत से लोग सुबह उठ कर चाय लेते हैं बिना चाय के उनका दिन शुरू नहीं होता। मीठे से जितनी जल्दी हमें एनर्जी मिलती हैं वो उतनी ही जल्दी चली भी जाती हैं। जिससे हम बाद में थकान महसूस करते हैं। हो सके तो सुबह चाय या मीठी चीज़ों से बचे। मीठी चीज़ों से हमारी ध्यान लगाने की और मेमोरी पर भी ग़लत प्रभाव पड़ता हैं। हो सके तो सुबह फल खाये।

नाश्ता का नहीं करना (Skipping Breakfast)

सुबह का भोजन बहुत ज़रूरी होता हैं। एक अच्छा ब्रेकफास्ट हमें पूरा दिन काम करने की शक्ति देता हैं वही ब्रेकफास्ट ठीक से नहीं करने से हम पूरे दिन थके रहते हैं और कुछ काम करने का भी मन नहीं करता हैं लो एनर्जी के कारण। अगर हमें अच्छे निर्णय लेने हैं और काम को ठीक से करना हैं तो सुबह के खाने को कभी नहीं छोड़ना हैं। यह सुबह की सबसे बुरी आदत हैं।

नाश्ते के बाद दाँत साफ करना (After Breakfast Brushing Teeth)

कुछ लोग अपनी मुँह की गंदी गंध से बचने के लिए सुबह के नाश्ते के बाद अपने दाँतो को ब्रश करते हैं लेकिन यह बहुत ग़लत हैं। खाने में कुछ ऐसे अंश होते हैं जो हमारे दाँतो की ऊपरी परत को हटा देते हैं और इसके बाद ब्रश करने से दाँत पहले से ज़्यादा कमजोर हो जाते हैं। खाने के बाद अच्छे से पानी के साथ दाँतो को साफ़ करना ठीक माना गया हैं।

कड़ी चुनौती नहीं दे रहे (Not Giving Tough Challenges)

अगर चुनौतियों का सामना करना हैं तो आराम की ज़िंदगी को छोड़ना पड़ेगा और आपने आप को चुनौतियां देनी पड़ेगी। ताकि आप अपने दिमाग़ और शरीर से वो काम करवा पाओ जो आप चाहते हो। रोज़ सुबह व्यायाम करना या रनिंग पर जाना एक अच्छी तरकीब हैं आराम की ज़िंदगी को छोड़ने के लिए। इससे आपका शरीर भी बनेगा और आप अपने आप को तैयार भी कर लेते हो।


ये भी पढ़े -:

Share This Article
Follow:
I done my Bachelors from Delhi University and currently working as a editor on Biographyguru. You can reach me out on instagram.
Leave a comment